Connect with us

प्रथम अंतराष्ट्रीय मिथिला शिखर सम्मेलन का आयोजन

Politics

प्रथम अंतराष्ट्रीय मिथिला शिखर सम्मेलन का आयोजन

शनिवार 04 सितंबर के रात में वर्चुअल अंतराष्ट्रीय मिथिला शिखर सम्मेलन का आयोजन किया गया. अंतराष्ट्रीय सम्मेलन में आर्थिक विकास के लिए प्रवासी मैथिलों के साथ लेकर नई सोच के साथ मैथिल मूल्यों को कैसे स्थापित किया जाए इस चर्चा हुई। जिसमें देश और दुनियाभर में फैले मिथिलांचल के लोग शामिल हुए.यह कार्यक्रम दुनिया में अपनी पहचान साबित करने वाले मैथिल महानुभावों से सीधा संवाद का अनमोल अवसर साबित हुआ.कार्यक्रम में इतिहास, संस्कृति, समाज, भाषा, अर्थशास्त्र, उद्यमशीलता, कृषि और कला संस्कृति की चर्चा हुई.साथ ही चर्चा इस बात पर हुई कि कैसे नई और पुरानी पीढ़ी के बीच तालमेल बैठाकर अपनी सभ्यता और संस्कृति को और विकसित किया जाए.बिहार सरकार के जल संसाधन मंत्री संजय झा इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि रहे.संजय झा ने बताया कि कैसे वो मिथिला के विकास के लिए सरकार में रहकर काम कर रहे हैं. इस बात पर चर्चा हुई कि संपन्नता के बाद भी मिथिलांचल विकास के मामले में क्यों पिछड़ गया.आखिर क्यों आजादी के बाद मिथिलांचल का उतना विकास नहीं हुआ जितना होना चाहिए

इंटरनेशनल मिथिला समिट में जर्मनी और ब्रिटेन जैसे देशों से मैथिल कलाकारों की खास प्रस्तुति भी देखने लायक थी. न्यूज 18 बिहार झारखंड के सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म से दुनियाभर में इस आयोजन को देखा गया.

अंतर्राष्ट्रीय मिथिला शिखर सम्मेलन वैश्विक मैथिल प्रवासियों को शामिल करके मैथिली मूल्यों को सतत आर्थिक विकास में बदलने की दिशा में नए विचारो, नेतृत्व सिद्धांतों और प्रेरणा देने का एक सफल प्रयास है।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

More in Politics

To Top